ऋषभ पंत बायोग्राफी, करियर और रिकॉर्ड।//Rishabh pant biography in Hindi.

ऋषभ पंत आज किसी परिचय के मोहताज नहीं है। 29 वर्षीय रुड़की का यह युवक आज पूरी दुनिया में धूम  मचा रहा है। हाल ही में इन्होंने t20 विश्व कप में सबसे ज्यादा कैच पकड़ने वाला विकेट कीपर बन गए हैं। इन्होंने दुनिया के तीन दिग्गजों के रिकॉर्ड को ध्वस्त किया है। आईए जानते ऋषभ पंत के शुरुआती संघर्ष के जीवन के बारे में।

ऋषभ पंत उन चमकते सितारों में से हैं जो आकाश में तारे की तरह चमक रहे हैं। ऋषभ पंत विकेट कीपर कॉम बल्लेबाज हैं। 
ऋषभ पंत की जीवन परिचय। 
ऋषभ पंत का जन्म 4 अक्टूबर 1997 को उत्तराखंड के रुड़की में हुआ था। इनके पिता का नाम राजेंद्र पंत तथा माता का नाम सरोजिनी पंत है। इनकी एक बहन भी है जिसका नाम साक्षी है। ऋषभ पंत के पिता राजेंद्र प्रसाद भी एक क्रिकेटर है जो यूनिवर्सिटी लेवल पर खेल चुके हैं। उनकी जर्नीआगे नहीं नहीं बढ़ पाई इसलिए उन्होंने अपने पुत्र को क्रिकेट की ऊचाइयों तक पहुंचाना चाहते थे। राजेंद्र पेंट अपने इस बेटे को रोज सुबह ग्राउंड में रोज प्रैक्टिस कराया करते थे। उन्हें पता था कि ऋषभ पंत एक अच्छा खिलाड़ी नहीं बन सकता जब तक उसे सही कोच से भेंट नही होती। ऋषभ पंत दिल्ली के मशहूर क्रिकेट क्लब सोनल क्रिकेट मैं दाखिला लेने की बात अपने पिता से बताई। उसे समय उनके परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। रुड़की से दिल्ली जाना और वहां पर रहना काफी मश्किल था। ऋषभ पंत की माता सरोजिनी ऋषभ पंत के साथ जाने को तैयार हो गई। इस क्रिकेट क्लब के कोच तारक सिन्हा ने ऋषभ पंत को प्रशिक्षण देना शुरू किया। कहां जाता है कि उसे समय उनकी माता ऋषभ पंत को क्रिकेट कर लिया मैं छोड़कर दिल्ली के मोती नगर गुरुद्वारा में जाकर सेवा करती और दोनों माता और बेटा इस गुरुद्वारा में रात गुजारते थे।
12 वर्ष के उम्र से क्रिकेट खेलना शुरू किया था। सबसे बड़ी बात यह है कि इन्होंने क्रिकेट के साथ-साथ  पढ़ाई भी जारी रखी।

सोनल क्रिकेट क्लब में ऋषभ पंत को बल्लेबाजी करने का ज्यादा मौका नहीं मिलता था। इसलिए उन्होंने राजस्थान जाने की सलाह दी। कोच तारक सिन्हा के कहां पर ऋषभ पंत ने क्रिकेट खेलने के लिए राजस्थान पहुंच गए। लेकिन वहां भी इन्हें बाहरी जानकर भेदभाव किया जाने लगा। इस कारण ऋषभ पंत फिर दिल्ली लौट आए।
ऋषभ पंत की क्रिकेट करियर। 
ऋषभ पंत ने अपने करियर की शुरुआत दिल्ली के लिए घरेलू क्रिकेट खेलकर की। उन्होंने 2015-16 रणजी ट्रॉफी सीजन में अपना पदार्पण किया और जल्द ही अपने अकर्मक बल्लेबाजी शैली के लिए जाने जाने लगे।
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट।
ऋषभ पंत ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 2017 में T20 इंटरनेशनल मैं अपना पदार्पण किया। इसके बाद उन्होंने 2018 में टेस्ट और वनडे इंटरनेशनल में भी पदार्पण किय।
इंडियन प्रीमियर लीग।
ऋषभ पंत दिल्ली कैपिटल्स टीम के लिए आईपीएल में खेलते हैं। उन्होंने आईपीएल में भी अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के कारण खूब लोकप्रियता अर्जित की है। 
ऋषभ पंत का T20 विश्व कप 2024 का रिकॉर्ड। 
ऋषभ पंत t20 विश्व कप में सबसे ज्यादा कैच पकड़ने वाला विकेट कीपर हो गए हैं। इस मामले में उन्होंने एडम गिल क्रिस्ट, एबी डी बिलियर्ड से और कुमार संगकारा को पछाड़ा है। इस तरह ऋषभ पंत के तीनों दिग्गजों को पछाड़कर नंबर वन स्थान हासिल की है।
ऋषभ पंत की शिक्षा। 
ऋषभ पंत की शुरुआती शिक्षा उत्तराखंड के देहरादून से हुई है। दिल्ली यूनिवर्सिटी से उन्होंने बीकॉम की डिग्री हासिल की है।
ऋषभ पंत की लव स्टोरी ।
कहां जाता है की ऋषभ पंत से एक लड़की इशा नेगी को एक तरफा प्यार हो गया था। 
ऋषभ पंत की संघर्ष की कहानी से हमें यही सीख मिलता है कि अगर आदमी अपनी लक्ष्य की ओर ध्यान कर परिश्रम करता रहे तो 1 दिन कामयाबी जरूर मिलेगी।
आपको यह भी पसंद आ सकता है,बाबर आजम की जीवनी

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

uri.indexOf("?m=1"));